CAA पर नतीश ने की संसद में चर्चा कराने की मांग, NRC बिहार में नहीं करेंगे लागू

पटना: (Realtimes) बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि नागरिकता कानून को लेकर बहस होनी चाहिए. वहीं उन्हे एनआरसी पर कहा कि बिहार में एनआरसी लागू होने का कोई सवाल ही पैदा नहीं होता. नीतीश कुमार की पार्टी ने संसद में नागरिकता संशोधन कानून का समर्थन किया था.

बता दें नीतीश कुमार ने सीएए के मुद्दे पर कहा कि इससे राज्य सरकारों का कोई लेनादेना नहीं है, जो भी करना है संसद को करना है और इस पर जो भी बोलना है वे 19 जनवरी के बाद बोलेंगे. वहीं एनपीआर पर बिहार के सीएम ने कहा कि एनपीआर पर और जानकारी मांगी है. लेकिन एनआरसी लागू करने का कोई सवाल नहीं है.

दरअसल, प्रशांत किशोर ने दावा किया था कि CAA, NRP, NRC  ये तीनों बिहार में लागू नहीं होंगे, उनके इस बयान के बाद सतारूढ़ एनडीए के घटक दलों में खलबली मची है. अधिकांश नेताओं का कहना हैं कि प्रशांत किशोर कुछ ज़्यादा बढ़चढ़ कर नीतीश कुमार से संबंधित दावा कर रहे हैं.

नीतीश कुमार का यह बयान बिहार विधानसभा में कांग्रेस और आरजेडी के इस कानून को लेकर हमला करने के बाद आया है. एनआरसी पर सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार में इसका कोई औचित्य ही नहीं है. नीतीश कुमार ने कहा है कि बिहार विधानसभा में नागरिकता संशोधन कानून को लेकर विशेष चर्चा होनी चाहिए. इसके साथ ही जदयू एनडीए का पहला घटक दल बन गया है,  जिसने खुले तौर पर कहा है कि इस कानून पर दोबारा चर्चा होनी चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *