भूखे मजदूरों के लिए रेलवे ने खोले अपने किचन के दरवाजे

नईदिल्ली (Realtimes) लॉकडाउन के चलते शहरों में रोजी मजदूरी करने वाले वाले लोग अब वहां से पलायन करने लगे हैं, जिसके चलते ऐसे मजदूरों का पेट भरने के लिए आईआरसीटीसी ने देशभर में मौजूद अपने बेस किचन खोल दिए हैं ।

आईआरसीटीसी की ओर से आरपीएफ एवं स्थानीय पुलिस सहित एनजीओ को भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है। जिससे रेल परिसर सहित अन्य जगहों पर रह रहे गरीबों, जरूरतमंदों और कामगारों को खाना नसीब होने लगा है ।

आईआरसीटीसी हर दिन 20 लाख से ज्यादा लोगों का खाना बनाने व आपूर्ति करने में सक्षम है । इसका पूरा खर्च भी आईआरसीटीसी ही उठाएगा । आईआरसीटीसी के अधिकारी ने बताया कि रेलवे बोर्ड की ओर से देशभर के सभी 68 डीआरएम को निर्देश हैं कि राज्यों के सहयोग से जरूरतमंदों को भोजन मुहैया कराएं।

इसके अलावा राज्यों की ओर से आने वाली मांग से तुरंत आईआरसीटीसी को अवगत कराएं। प्रमुख रेलमार्गों पर आईआरसीटीसी के मेगा बेस किचन हैं। यहां प्रतिदिन एक लाख लोगों का खाना एक बार में बनाया जा सकता है।

यहां भोजन कराया आईआरसीटीसी ने बताया कि शनिवार को दिल्ली रेलवे स्टेशन परिसर में आरपीएफ ने 2500 कामगारों को खिलाया। रविवार को दिल्ली में 5030, बेंगलुरु में 2000, हुबली में 700, मुंबई सेंट्रल में 1500, हावड़ा में 500, पटना में 400, टाटा नगर में 400, रांची में 300लोगों को खिलाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *