बिजली बनाने वाले उद्योग नहीं रुकेंगे

Indian government, Ministry of Steel, India off, During lock down curfew, Steel plant, Open,

फर्नेस वाले उद्योगों का संचालन यथावत
विद्युत उत्पादन करने वाले उद्योगों को निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करने निर्देश

नई दिल्ली(realtimes) भारत सरकार के इस्पात मंत्रालय के सचिव विनय कुमार  ने राज्यों के सभी मुख्य सचिवों के पत्र लिख कर covid-19 के बचाव के लिए भारत बंद(लॉक डाउन ) कर्फूय के दौरान इस्पात प्लांट को उपयोग में आने वाले महत्व पूर्ण सामग्री की सप्लाई के प्रबंधन में सहयोग बनाये रखने के बाबत निर्देशित किया है|

उन्होंने बताया यह की कोविद -19 के प्रसार को रोकने के लिए गैर-जरूरी वाणिज्यिक प्रतिष्ठानों और लोगों की आवाजाही के संचालन पर कई राज्य सरकारों द्वारा लगाए गए हालिया प्रतिबंध के संदर्भ में है। इस संबंध में यह मंत्रालय के संज्ञान में आया है कि देश भर के कई इस्पात संयंत्रों में श्रमिकों के प्रवेश, कच्चे माल की आपूर्ति और तैयार इस्पात के प्रेषण के संबंध में समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। इससे न केवल इन इस्पात संयंत्रों के संचालन पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ने की संभावना है, जिससे उनके मशीनरी को भी नुकसान पहुंचाने की सम्भावना है।

इस तथ्य के मद्देनजर कि ई एस एम ए, 1981 की धारा 2 (1) (ए) (xii) के तहत स्पष्ट रूप से कोयला, बिजली, इस्पात या उर्वरकों के उत्पादन, आपूर्ति या वितरण से संबंधित किसी भी प्रतिष्ठान या उपक्रम में किसी भी सेवा को आवश्यक रूप से सूचीबद्ध करती है। यह अनुरोध किया जाता है कि स्टील प्लांट्स (दोनों एकीकृत स्टील प्लांट्स के साथ-साथ इंडक्शन फर्नेस या इलेक्ट्रिक आर्क फर्नेस बेस्ड स्टील यूनिट्स) इन संयंत्रों में लगे श्रमिकों का प्रवेश-निकास, आंदोलन (रेल और सड़क दोनों के साथ-साथ कच्चे माल (लौह अयस्क, कोयला, चूना पत्थर, डोलोमाइट, फेरो-मिश्र धातु, स्क्रैप, स्पंज, लोहे आदि) और मध्यवर्ती) या ऐसे प्लांट से तैयार उत्पाद के संचालन पर कोई प्रतिबंध न लगाया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *