Amphan Cyclone: पश्चिम बंगाल में तबाही पर पीएम मोदी का एक ‘हजार करोड़ का मरहम’

कोलकाता,(Realtimes) आज शुक्रवार को देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पश्चिम बंगाल के दौरान पर पहुंचे, जहां उन्होने अम्फान तूफान की वजह से हुई तबाही को लेकर, प्रदेश की सीएम ममता बेनर्जी से चर्चा की, साथ ही प्रभावित इलाकों का दौरा भी क्या, चक्रवाती तूफान ‘अम्फान’ से बुरी तरह प्रभावित हुए पश्चिम बंगाल का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को हवाई दौरा किया।

1000 करोड़ रुपये की शुरुआती मदद

हालात का जायजा लेकिन के बाद प्रधानमंत्री ने पश्चिम बंगाल के लिए 1000 करोड़ रुपये की शुरुआती मदद देने की घोषणा की है। इस दौरान उन्होंने कहा कि मैं पश्चिम बंगाल के लोगों को विश्वास दिलाता हूं कि इन कठिन समय में पूरा देश आपके साथ खड़ा है।

प्रधानमंत्री मोदी ने उत्तर 24 परगना जिले के बशीरहाट में राज्यपाल जगदीप धनखड़ और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ स्थिति की समीक्षा के बाद एक वीडियो संदेश में चक्रवात ‘अम्फान’ की चपेट में आकर जान गंवाने वाले लोगों के परिवार को दो-दो लाख रुपये और घायलों को 50 हजार रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा भी की।

राज्य और केंद्र सरकार दोनों ने की थी तैयारी

पीएम मोदी ने कहा कि जब देश में कोरोना वायरस का संकट है, तब पूर्वी क्षेत्र में तूफान ने प्रभावित किया। पीएम मोदी ने कहा कि राज्य और केंद्र सरकार दोनों ने इस तूफान को लेकर तैयारी की थी, लेकिन इसके बावजूद 80 लोगों की जान हम नहीं बचा पाए हैं। इस तूफान की वजह से काफी संपत्ति का नुकसान हुआ है, जिसमें घर क्षतिग्रस्त और इन्फ्रास्ट्रक्चर को बड़ा नुकसान हुआ है।

उन्होंने कहा, ”मैं राज्य को 1,000 करोड़ रुपये की अंतरिम मदद देने की घोषणा करता हूं। घरों के अलावा कृषि, बिजली और अन्य क्षेत्रों को पहुंचे नुकसान का विस्तृत आकलन किए जाएगा।” उन्होंने कहा, ” संकट और निराशा के इस समय में पूरा देश और केन्द्र बंगाल के लोगों के साथ है।”

चक्रवात की चपेट में आने से अभी तक राज्य में कम से कम 80 लोगों की जान जा चुकी है। उत्तर और दक्षिण 24 परगना, पूर्व और पश्चिम मिदनापुर, कोलकाता, हावड़ा और हुगली जिलों में बुनियादी ढांचे, सार्वजनिक और निजी संपत्ति को बड़े पैमाने पर नुकसान पहुंचा है।

National NewsऔरChhattisgarh  से जुड़ी अपडेट्स के लिए हमेंFacebook पर Like करें, Twitter पर Follow करेंऔरYoutube  पर  subscribe करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *