त्रिपुरा के राज्यपाल रमेश बैस का भव्य स्वागत

रायपुर(realtimes) त्रिपुरा के राज्यपाल के रूप में छत्तीसगढ़ रमेश बैस की( ) नियुक्ति के पश्चात उनके प्रथम छत्तीसगढ़ आगमन( ) पर भव्य स्वागत हुआ। छत्तीसगढ़ी संस्कृति एवं परम्परानुसार पंथी नृत्य, राउत नाचा, ढोल गाजे बाजें के साथ भाजपा कार्यकर्ताओं, नेताओं ने जोशीला स्वागत किया। जैसे ही श्री बैस विमानतल से बाहर निकले भाजपा कार्यकर्ताओं ने फूलमालाओं से उन्हें लाद दिया। कार्यकर्ताओं में उनके स्वागत की होड़ मची हुई थी। श्री बैस ने भी विन्रमता पूर्वक सभी कार्यकर्ताओं का अभिवादन किया।

कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए भावुक हो गए बैस

भाजपा कार्यालय एकात्म परिसर में आयोजित समारोह में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए रमेश बैस ने कहा कि यह सम्मान मैं सम्पूर्ण छत्तीसगढ़वासियों और भाजपा नेतृत्व और कार्यकर्ताओं को सपर्मित करता हूं। मैं आज के बाद संवैधानिक दायित्व निभाने जा रहा हूं इसलिए पार्टी कार्यालय दायित्व रहते तक नहीं आ पाऊंगा। भारतीय जनता पार्टी ने मुझे अपने जीवन के स्वर्णिम अवसर दिए है। एक किसान का बेटा था कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि मैं चुनाव लड़ूंगा कभी पार्षद, विधायक, सांसद बनूंगा नहीं सोचा था परन्तु पार्टी के कार्यकर्ताओं ने मेहनत और स्नेह से मुझे लंबे समय तक जन प्रतिनिधि बनाया और आज शीर्ष नेतृत्व ने ऐसा दायित्व दिया है कि मैं इस पार्टी का अहसान कभी जीवन भर नहीं भूल सकता। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने जब मुझे टेलीफोन पर ये कहा कि आपको कोई संवैधानिक दायित्व देने की सोच रहे हैं तब मेरा यही जवाब था कि पार्टी नेतृत्व के फैसले मेरे लिए हमेशा शिरोधार्य रहे हैं। मैं लंबे समय तक आप सब के बीच में काम करता रहा हूं। मैं आप सबके स्नेह को कभी नहीं भुला सकता हूं। मन बहुत भरा-भरा सा लग रहा है। इतना कहते हुए श्री बैस भावुक हो गए और उन्होंने छत्तीसगढ़ वासियों को त्रिपुरा आने का न्यौता भी दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *