छत्तीसगढ़ की बेटी लहराएगी जर्मनी में परचम

Sindhi society, Chhattisgarh, Student, Payal Gwalani, Selection, Germany, Earthquake Volcanic Center, Research,

जीऐफजेड में हुआ पायल का चयन

सिंधु गौरव से होंगी सम्मानित

रायपुर(realtimes) समूचे भारत के सिंधी समाज और छत्तीसगढ़ की पहली छात्रा हैं पायल ग्वालानी जिसका चयन जर्मनी के अर्थक्वेक ज्वालामुखी सेंटर में रिसर्च करने के लिए हुआ है. पायल का चयन जी.ऐफ.जेड.जर्मन रिसर्च सेंटर फार जिओ साईंस मे फिजिक्स के अर्थक्वेक और वाल्केनो मे रिसर्च करने हेतु जर्मनी के पोस्टडेम शहर में हुआ है जहां वे रिसर्च सेंटर मे भाग लेने के लिए 10 अगस्त को जर्मनी के बर्लिन शहर जाऐंगी. वहां पर वे 10 अगस्त से लेकर 8 सितम्बर तक अर्थक्वेक ऐवं ज्वालामुखी विषय में रिसर्च करेंगी.

पायल ग्वालानी पूरे देश से सिंधी समाज की पहली छात्रा हैं जो कि रिसर्च साईँस सेंटर जर्मनी मे रिसर्च करने के लिए जाऐंगी. रिसर्च के दौरान सभी व्यवस्था जर्मन सरकार करेगी. इस विषय में पूरी दुनिया के 23 देशों से 26  छात्रों का चयन हुआ है जो कि जर्मनी जा कर अर्थक्वेक ऐ्व वाँल्केनो मे रिसर्च करेंगे. इसके बाद 4 दिन लन्दन मे एक कांफ्रेंस होगी जिसमें पायल ग्वालानी ग्रीनविच यूनिवर्सिटी लंदन जा कर कांफ्रेंस में शिरकत करेंगी.

पायल ग्वालानी शुरु से ही छत्तीसगढ़ प्रदेश की होनहार छात्रा रही हैँ। वे बी टेक सिविल मे सिम्बियासिस ईँटरनेशनल यूनिवर्सिटी मे प्रथम स्थान अर्जित कर चुकी है जिसके लिये उन्हें पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने महाराष्ट्र के प्रसिद्द दत्ता पुरस्कार के लिये गोल्ड मेडल प्रदान किया था. वर्तमान मे पायल आई आई टी रूरकी मे अर्थक्वेक डायनामिक्स मे पी.एच.डी. कर रही है. यह न केवल सिंधी समाज के लिए बल्कि छत्तीसगढ़ के लिए भी गौरव का विषय है कि छत्तीसगढ़ की छात्राऐं न केवल देश में प्रथम स्थान अर्जित कर रही है बल्की विदेश में जाकर भी छत्तीसगढ़ का परचम लहराऐगी.

पायल की इस उपलब्धि को लेकर सिंधी समाज गौरवानवित अनुभव कर रहा है. इसके लिए छत्तीसगढ़ सिंधी पंचायत अपनी शदाणी दरबार में सँत साई युद्धीष्ठर लाल के सानिध्य मे सम्मान करेगी. छत्तीसगढ़ सिंधी पंचायत के प्रमुख समाज सेवियों ने कहा कि बेटी बचाऔ बेटी पढ़ाऔ सरकार के स्लोगन को सिंधी समाज की इस बेटी ने साकार किया है. इसलिए समाज अपनी बिटिया का सम्मान करने जा रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *