भारतमाता स्कूल प्रबंधन को बचाने में लगा शिक्षा विभाग – उपासने

Sachchidanand Upasane, Bharatmata School Management, Negligence, Two students died, education Department,

रायपुर(realtimes) भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता सच्चिदानंद उपासने ने भारतमाता स्कूल प्रबंधन की लापरवाही के चलते दो विद्यार्थियों की हुई मौत के परिप्रेक्ष्य में कांग्रेस और प्रदेश सरकार की भूमिका पर कड़ा ऐतराज जताया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार के इशारे पर शिक्षा विभाग भारतमाता स्कूल प्रबंधन को बचाने में लगा है।

भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि इस मामले में कांग्रेस की भूमिका आरोपियों को बचाने वाली है। अभी लगभग एक माह पूर्व रेडियंट स्कूल में भी इसी तरह की एक घटना (जिसमें छात्रा सौभाग्य से जीवित बच गई) के बाद शिक्षा विभाग ने उक्त स्कूल की मान्यता रद्द करने में जितनी फुर्ती दिखाई, वही तत्परता भारतमाता स्कूल प्रबंधन के खिलाफ दो छात्रों की मौत के बावजूद नहीं दिखाई गई जबकि उक्त स्कूल की मान्यता तत्काल प्रभाव से रद्द कर देनी चाहिए थी। लेकिन कांग्रेस विधायक के इशारे पर इस मामले में भारतमाता स्कूल प्रबंधन को बचाने का काम शिक्षा विभाग कर रहा है।

श्री उपासने ने कहा कि इस मामले में विधायक व शिक्षा विभाग के अफसरों ने दबावपूर्वक स्कूल प्रबंधन और मृतकों के परिजनों के बीच कथित तौर पर समझौता कराते हुए नियमों और मापदंडों की धज्जियां उड़ाई। आमानाका थाने में इस स्कूल प्रबंधन के खिलाफ कोई मामला दर्ज ही नहीं होने दिया गया जबकि इसी थाने में दोनों पक्षों के बीच समझौता कराया गया।

सच्चिदानंद उपासने ने कहा कि इस पूरे मामले में अपनाए गए दोहरे मापदंडों को लेकर प्रदेश सरकार, शिक्षा विभाग और स्कूल प्रबंधन की साजिशाना मिली-भगत स्पष्ट हो रही है। श्री उपासने ने दोनों छात्रों की मौत के मामले में स्कूल प्रबंधन के खिलाफ कड़ी कार्रवाई और स्कूल की मान्यता रद्द करने की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *